गुरदासपुर में हार की जिम्मेदारी लें सुखबीर, मजीठिया को हटाएं: सुखजिंद्र रंधावा

  • गुरदासपुर में हार की जिम्मेदारी लें सुखबीर, मजीठिया को हटाएं: सुखजिंद्र रंधावा
You Are HerePunjab
Tuesday, October 17, 2017-11:34 PM

चंडीगढ़: गुरदासपुर में जीत हासिल करने के बाद पंजाब कांग्रेस ने अकाली दल पर सियासी हमले तेज कर दिए हैं। कांग्रेसी विधायक सुखजिंद्र सिंह रंधावा ने उपचुनाव में कांग्रेस की जीत को ऐतिहासिक करार देते हुए शिरोमणि अकाली दल के प्रधान सुखबीर सिंह बादल से कहा है कि वह अकाली-भाजपा गठजोड़ की हार की नैतिक जिम्मेदारी लें तथा बिक्रम सिंह मजीठिया को पार्टी के सभी पदों से हटाकर राज्य की राजनीति को साफ-सुथरा बनाएं। 

उन्होंने कहा कि मजीठिया को हटाकर ही पंजाब की राजनीति साफ-सुथरी होगी क्योंकि पिछले 10 वर्षों के दौरान जितनी गुंडागर्दी अकाली शासनकाल में हुई है वह किसी से छिपी नहीं है। उन्होंने कहा कि भाजपा की शर्मनाक हार के लिए मजीठिया भी जिम्मेदार हैं क्योंकि उनके चेहरे को अब लोग देखना भी पसंद नहीं करते। उन्होंने कहा कि मजीठिया तथा उनके शेर सुच्चा सिंह लंगाह के कारनामे जनता के सामने आ चुके हैं। डेरा बाबा नानक हलके में अकाली दल को 44,074 वोटों से पराजित करने वाले रंधावा ने कहा कि अब समय आ गया है कि दीवार पर लिखे संकेतों को अकाली दल को समझ लेना चाहिए। 

रंधावा ने कहा कि मजीठिया की बदनामी के कारण ही अकाली दल को 2017 के विधानसभा चुनावों में भारी पराजय का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा कि मजीठिया की कार्यप्रणाली के कारण ही पंजाब में नशों का कारोबार बढ़ा। पिछले 10 वर्षों के दौरान सुखबीर ने अपनी आंखें बंद रखीं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कै. अमरेंद्र सिंह के नेतृत्व में पंजाब लगातार ऊंचाइयों की ओर बढ़ रहा है। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल से भी कहा कि वह अपने बेटे सुखबीर को कहें कि वह मजीठिया से दूर रहे, अगर ऐसा न हुआ तो अकाली दल का हश्र और भी बुरा होगा।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You