SIT की चार्जशीट में बड़ा खुलासा, हनीप्रीत ने कबूली दंगे में हाथ होने की बात

  • SIT की चार्जशीट में बड़ा खुलासा, हनीप्रीत ने कबूली दंगे में हाथ होने की बात
You Are HereNational
Tuesday, November 28, 2017-5:51 PM

पंचकूला(उमंग श्योराण): हरियाणा पुलिस ने हनीप्रीत के खिलाफ पंचकूला की विशेष अदालत में 1200 पन्नों की चार्जशीट दाखिल की है। एसआईटी की टीम ने सीजेएम रोहित वॉट्स की कोर्ट में हनीप्रीत के खिलाफ चार्जशीट पेश की। जिसमें हनीप्रीत के पंचकूला हिंसा में हाथ होने की बात कबूली है। डेरा मामले में अहम कड़ी हनीप्रीत अंबाला जेल से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पेश हुई। 

एसआईटी ने जाच पड़ताल के बाद कोर्ट में हनीप्रीत के खिलाफ चार्जशीट दायर की है। रिपोर्ट में बताया गया है कि 9 दिनों के रिमांड में हनीप्रीत ने दंगों में उसका हाथ होने की बात कबूली थी। इसके अलावा पुलिस को हनीप्रीत से मोबाइल ,लैपटॉप, डायरी और कई अहम दस्तावेज मिले थे। रिमांड के दौरान काबूली कई बातें चार्जशीट में मौजूद हैं। एफआईआर नंबर 345 में हनीप्रीत के अलावा डॉ. आदित्य, पवन इंसा, सुरेंद्र धीमान, दिलावर, दान सिंह, चमकौर सिंह, महेंद्र इंसा भी आरोपी हैं। इस मामले में फिलहाल डॉ. आदित्य और महेंद्र इंसा फरार चल रहे हैं। जबकि पवन इंसा अभी भी पुलिस रिमांड पर है। पुलिस ने हनीप्रीत समेत 15 लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 121, 121A, 216, 145, 150, 151, 152, 153 और 120B के तहत केस बनाया है।

सुरेंदर धीमान की जमानत याचिका खारिज
इस मामले में कुल 67 चश्मदीद शामिल हैं। साथ ही विशेष अदालत ने इस मामले के एक अन्य आरोपी सुरेन्दर धीमान की जमानत अर्जी भी खारिज कर दी। सुरेन्दर के वकील ने अदालत में इस बात का हवाला दिया कि पुलिस 90 दिनों तक भी धीमान के खिलाफ चार्जशीट दाखिल नहीं कर पाई थी। हालांकि अदालत ने धीमान के वकील की इस दलील को खारिज कर दिया और उसे जमानत देने से इनकार कर दिया।

150 चालान पेश कर चुरी है पुलिस
पुलिस अब तक डेरे से जुड़े कुल 155 केसों में से 150 में चालान पेश कर चुकी है। 5 मामलों में 15 से 20 आरोपियों की गिरफ्तारियां बाकी हैं। पंचकूला पुलिस की 9 एसआइटी ने 155 एफआइआर पर जांच शुरू की थी। गाडिय़ों को आग लगाने के मामलों में अलग-अलग 50 से ज्यादा चालान हैं। एक केस में 15 से लेकर 100 लोगों तक को आरोपी बनाया गया है। इन मामलों में  अफसर, ड्यूटी मजिस्ट्रेट और पुलिस को गवाह बनाया गया है। 

आदित्य के खिलाफ पुलिस घोषित करेगी इनाम
सूत्रों के अनुसार इस मामले में फरार चल रहे डॉ. आदित्य के खिलाफ पुलिस जल्द ही इनाम घोषित कर देगी। पंचकूला पुलिस ने डीजीपी हरियाणा को इस संबंध में एक पत्र भी लिखा है, जिसमें पुलिस ने कहा है कि डॉ. आदित्य पर इनाम घोषित होना चाहिए। आदित्य पर पुलिस 1 लाख रुपए का इनाम घोषित करने पर पर विचार कर रही है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!