अशोक ने पुलिस पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- नशा अौर करंट देकर कबूल कराया जुर्म(Video)

You Are HereNational
Thursday, November 23, 2017-12:35 PM

गुरुग्राम(सतीश राघव): प्रद्युम्न मर्डर केस का आरोपी अशोक कुमार भोंडसी जेल से रिहा किए जाने के बाद वहां से सीधे सोहना के घांबरोज गांव में अपने घर गया। अशोक ने परिवार के पास लौटने के बाद पुलिस पर गंभीर आरोप लगाए हैं। अशोक ने कहा कि मैडम के कहने पर ही उसने प्रद्युम्न को खून से लतपथ उठा कर गाड़ी में डाला था और पुलिस ने उसी बिनाह पर उसे पकड़ लिया। करीब चार घंटे तक पुलिस उसे पिटती रही। अशोक ने बताया कि पुलिस ने उसे बहुत टॉर्चर किया, उसे करंट दिया, इंजेक्शन लगाया अौर पूरे परिवार को मारने का भी डर दिखाया। इसके बाद अशोक ने मर्डर का जुर्म कबूला था। 

डेढ महीने तक सोने के लिए नहीं दी बेडशीट
अशोक ने पुलिस पर आरोप लगाते हुए कहा है कि पुलिस ने मीडिया के सामने जुर्म कबूल करने के लिए मजबूर किया था। अशोक ने बताया कि वह पिछले दो महीने से जेल में था लेकिन डेढ़ महीने तक उसे सोने के लिए बेडशीट तक नहीं दी कि कहीं वह फांसी न लगा ले। उसने जेल में दो महीने से टीवी नहीं देखा था। उसे बिल्कुल भी पता नहीं था कि बाहर क्या हो रहा है।
 PunjabKesari
अशोक की बिगड़ी तबीयत
जेल से जमानत पर छुटने के बाद अशोक की तबियत बिगड़ गई है। अशोक के परिजनों का कहना है कि उसके पूरे शरीर में दर्द, बुखार अौर उल्टी की शिकायत है। साथ ही अशोक के सीने में दर्द के कारण उससे बोला नहीं जा रहा है। परिजनों ने अशोक को डॉक्टर से भी दिखाया है। डॉक्टर ने अशोक को आराम की सलाह दी है।

अशोक की पत्नी ने बताया कि पुलिस ने अशोक को बहुत मारा और उल्टा लटका कर बेहद प्रताड़ित किया। उसके पति को बुरी तरह टॉर्चर करने के अलावा उसे नशा दिया गया और नशे में ही उससे जुर्म कुबूल करवाया गया।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!