सोनीपत का अंकुर बना वर्ल्ड नंबर वन शूटर, पिता अौर भाई से प्रेरणा लेकर बने  निशानेबाज

  • सोनीपत का अंकुर बना वर्ल्ड नंबर वन शूटर, पिता अौर भाई से प्रेरणा लेकर बने  निशानेबाज
You Are HereNational
Sunday, October 22, 2017-11:03 AM

सोनीपत(ब्यूरो): भारतीय निशानेबाज अंकुर मित्तल ने अपना शानदार प्रदर्शन करते हुए  डबल ट्रैप में वर्ल्ड के नंबर-1 शूटर का खिताब हासिल किया है। इस मुकाम को हासिल करने वाले वह दूसरे भारतीय शूटर हैं। इससे पहले ये मुकाम रंजन सोढ़ी ने हासिल किया था।आईएसएसएफ द्वारा जारी वर्ल्ड शूटिंग रैंकिंग में अंकुर के 2596 अंक हैं। वहीं, 2531 अंकों के साथ रूस के कोकीव दूसरे स्थान पर रहे। इसके बाद सोनीपत पहुंचने पर अंकुर का स्वागत किया गया। अंकुर ने 2010 में शूटिंग में अपने करिअर की शुरूआत की थी। उसे निशानेबाजी की प्रेरणा अपने पिता अशोक मित्तल और बड़े भाई अजय से मिली। दोनों ही निशानेबाज रहे हैं। अजय राष्ट्रीय चैंपियन और जूनियर एशियन चैंपियनशिप का खिताब जीत चुके हैं। 

इस साल हासिल की ये उपलब्धियां
अंकुर ने इस साल भारत में फरवरी में हुए वर्ल्ड कप में रजत पदक हासिल किया। उसके बाद मैक्सिको में वर्ल्ड कप में गोल्ड मेडल जीता। एशियन चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक पाया। सितंबर में मॉस्को में वर्ल्ड चैंपियनशिप में बेहतर स्कोर कर (145-150) जर्मनी में बनाए गए अपने ही नेशनल रिकॉर्ड (144-150) को तोड़ दिया। वह डबल ट्रैप इवेंट में सबसे ज्यादा स्कोर करने वाले खिलाड़ी बने। इन्हीं उपलब्धियों को देखते हुए वह रैंकिंग में नंबर वन बन गए।

अंकुर का लक्ष्य गोल्ड जीतना
27 अक्टूबर को दिल्ली में होने वाले वर्ल्ड कप फाइनल में अंकुर विश्व के शीर्ष 12 खिलाड़ियों के साथ श्रेष्ठता का मुकाबला खेलेंगे यह पहला मौका है, जब भारत को फाइनल की मेजबानी मिली है। अंकुर का कहना है कि उनका लक्ष्य गोल्ड मेडल जीतना है।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You