32 साल बाद अंतर्राज्यीय मोस्टवांटेड काबू...25 से ज्यादा किए थे मर्डर

You Are HereHaryana
Tuesday, September 20, 2016-5:16 PM

करनाल (अनिल भारद्वाज): 32 साल के बाद सी.आई.ए.-2 ने अंतर्राज्यीय ,मोस्टवांटेड को गिरफ्तार किया है। आरोपी को सोमवार को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया गया है। आरोपी के खिलाफ उत्तर प्रदेश और हरियाणा में 25 से ज्यादा केस मर्डर, डकैती, अपहरण, लूट के मामले दर्ज हैं और अनेक राज्यों की पुलिस ने अपराधी को पकड़ऩे के लिए इनाम भी घोषित किया हुआ है लेकिन 32 साल तक पुलिस इसको पकड़ नहीं पाई।

आरोपी पाला सिंह उर्फ  कृपाल सिंह वासी लक्ष्मीपुरा चौसाना थाना झिंझाना जिला शामली को जिला शामली के संभालखा गांव से पकड़ा है। डी.एस.पी. जितेंद्र गहलावत ने बताया कि इंचार्ज उप-निरीक्षक आजाद सिंह को सूचना मिलने पर ए.एस.आई. प्रवीन कुमार के नेतृत्व में टीम का गठन किया और गांव समालखा जिला शामली यू.पी. में आरोपी को धर दबोचा। अपराधी के खिलाफ उत्तर प्रदेश और हरियाणा में 302, 307, 395, धारा शस्त्र अधिनियम, एन.डी.पी.एस. एक्ट सहित विभिन्न धाराओं के तहत कई मामले दर्ज हैं।

इंचार्ज आजाद सिंह ने बताया कि आरोपी पाला सिंह उर्फ कृपाल सिंह के खिलाफ वर्ष 1984 से वर्ष 2016 तक 25 से ’यादा केस यू.पी. और हरियाणा में दर्ज हैं। आरोपी पर सदर थाना रोहतक में केस दर्ज है और इस पर 10,000 रुपए का ईनाम घोषित किया हुआ है। करनाल में 5,000 रुपए का इनाम घोषित है। वर्ष 1992 से करनाल के थाना घरौंडा, सदर थाना और निसिंग थाने में दर्ज मामलों में टाडा अपराधी घोषित है। आरोपी थाना असंध के भी एक मामले में टाडा अपराधी घोषित है। पुलिस का कहना है कि रिमांड के दौरान कई मामले भी ट्रेस हो सकते हैं। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You