कि.मी. लम्बे फोरलेन में 32 रोड कट, प्रशासन लापरवाह

  • कि.मी. लम्बे फोरलेन में 32 रोड कट, प्रशासन लापरवाह
You Are HereKaithal
Wednesday, January 10, 2018-12:24 PM

गुहला चीका(ब्यूरो):चीका शहर के चारों तरफ फोरलेन का निर्माण शुरू से विवादों का केंद्र रहा है। मुख्यमंत्री द्वारा शहर के चारों तरफ फोरलेन बनाने की घोषणा होने से लोगों को उम्मीद बंधी थी कि फोरलेन का निर्माण होने से लोगों को आने-जाने का अलग रास्ता और दुर्घटना कमी आएगी लेकिन फोरलेन ऊधम सिंह चौक से पटियाला रोड तक बनने वाले फोरलेन के 2 कि.मी. के रास्ते में 32 कट छोड़ दिए गए हैं जिससे दुर्घटनाएं घटित हो रही हैं। उक्त फोरलेन का निर्माण ठेकेदारों द्वारा किया जा रहा है। जिसका निरीक्षण स्थानीय लो.नि.वि. के अधिकारियों द्वारा किया जा रहा है। ठेकेदारों के इस काम की गुणवत्ता की परख नहीं की जा रही है। जबकि ठेकेदार ने कहा है कि नियमों व कायदों के अनुसार काम हो रहा है।

चारों मुख्य मार्ग बनेंगे 2-2 कि.मी.
शहर के चारों निर्माणाधीन मुख्य मार्ग मिली सूचना के अनुसार 2-2 किलोमीटर होंगे जिनकी चौड़ाई डिवाइडर से सवा 7 गज होगी, जिसमें डेढ़ मीटर का डिवाइडर बनाया गया है। उक्त निर्माण कार्य को अप्रैल माह तक पूरा कर लिया जाना जरूरी है। 

क्या कहना है बार एसोसिएशन के प्रधान का
इस संबंध में अधिवक्ता संघ के प्रधान बलदेव सिंह पूनिया ने कहा कि अधिकारी व कर्मचारियों को कानून कायदों के अनुसार ही कार्य करने चाहिए, बिना किसी उचित कारण के सरकारी योजनाओं को तोडऩा-मरोडऩा गैर-कानूनी है, जनता की सुविधा अनुसार ही लोक अधिकारियों को सार्वजनिक कार्यों को अंजाम देना चाहिए। उन्होंने कहा कि कट लगाने में भी कहीं न कहीं दाल में काला ही नहीं अलबत्ता पूरी दाल ही काली है। 

आर.टी.आई. से ली जाएगी जानकारी
आर.टी.आई. कार्यकर्ता राममेहर काजल ने शहर में निर्माणाधीन पर उठने वाले सवालों को लेकर आर.टी.आई. लगाने के लिए कमर कस ली है। काजल ने कहा कि उक्त फोरलेन की जहां लम्बाई-चौड़ाई व मोटाई पर सवाल खड़े हो रहे है, वहीं अब कानून कायदों को ताक पर रखकर बेतुके कट भी एक और सवाल खड़ा करते हैं। 

क्या कहना है एस.डी.ओ. का
लो.नि. विभाग के एस.डी.ओ. रामपाल मोर ने माना कि फोरलेन में इतने ज्यादा छोड़े गए कट गैर कानूनी हैं लेकिन अधिक कट छोडऩा भी हमारी मजबूरी है, कभी कोई दुकानदार तो कभी कोई दुकानदार सिफारिश करवा देता है। हमने सभी दुकानदारों की सुविधा के मद्देनजर यह कट छोड़े गए हैं। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन