रिजल्ट आने से पहले ही 12वीं पास कर गए ओपी चौटाला, दावों पर बड़ा खुलासा

  • रिजल्ट आने से पहले ही 12वीं पास कर गए ओपी चौटाला, दावों पर बड़ा खुलासा
You Are HereHaryana
Friday, May 19, 2017-4:51 PM

सिरसा:तिहाड़ जेल में सजा काट रहे देश के एक पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने फर्स्ट डिविजन से 12वीं की परीक्षा पास कर ली। लेकिन इस बात की असलियत तो कुछ और ही निकल कर सामने आई है। बताया जा रहा है कि अोम प्रकाश चौटाला ने 12वीं की परीक्षा पास कर ली है अौर अब वे ग्रेजुएट करने की तैयारी में हैं। इसके लिए उन्होंने किताबें भी मंगवा ली हैं। लेकिन असल में चौटाला ने अभी तक दसवीं की परीक्षा भी पास नहीं की है। जिस नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन लर्निंग स्कूल (एनओआईएस) से 12वीं पास करने का दम भरा जा रहा है, वहां अभी तक रिजल्ट (31 मई तक जारी होने की संभावना) जारी ही नहीं हुआ है। एक खास बात यह है कि इसी बोर्ड से उन्होंने दसवीं कक्षा की परीक्षा पांच पेपरों के साथ दी है, जिसका परिणाम जून के पहले हफ्ते में जारी होना है। 
PunjabKesari
नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ ओपन लर्निंग स्कूलिंग (एनओआईएस) के सूत्रों के मुताबिक, ओमप्रकाश चौटाला ने दसवीं परीक्षा का आवेदन पत्र भरा था। इसके तहत उन्होंने 6 से 24 अप्रैल के बीच सोशल साइंस, साइंस एंड टेक्नोलॉजी, हिंदी, बिजनेस स्ट्डीज समेत पांच पेपर दिए हैं। चौटाला की दसवीं परीक्षा से जुड़े दस्तावेजों में चौटाला ने जे 27116162040 नंबर के साथ दसवीं परीक्षा के लिए इंनरोलमेंट किया है, जिसमें ओमप्रकाश चौटाला सपुत्र स्वर्गीय देवीलाल लिखा हुआ है। इन दस्तावेजों के मुताबिक, इसमें ओमप्रकाश चौटाला की जन्मतिथि एक जनवरी 1935 लिखी है।

इसके अलावा उनके द्वारा दिए पांच पेपर के एक-एक कोड नंबर भी है, 201 (हिंदी), 212(साइंस एंड टेक्नोलॉजी), 213(सोशल साइंस),223(इंडियन कल्चर व हेरिटेज) व 215(बिजनेस स्ट्डीज) है। एनओआईएस सूत्रों के मुताबिक, इस बोर्ड में दसवीं परीक्षा के लिए कोड नंबर 20 से शुरू होता है, जबकि 12वीं कक्षा के लिए 30 से शुरुआत होती है। दस्तावेज के अनुसार उन्होंने तिहाड़ स्ट्डी सेंटर, सेंट्रल जेल नंबर दो, तिहाड़ जेल, नई दिल्ली 110064 (फोन नंबर 28522250) का पता दिया था। चौटाला की लिखित परीक्षा सेंटर नंबर 17758 में आयोजित हुई है, जोकि तिहाड़ स्ट्डी सेंटर, सेंट्रल जेल नंबर सात, तिहाड़ में स्थापित था।
PunjabKesari
जेबीटी शिक्षकों की भर्ती मामले में मिली थी सजा
हरियाणा में जेबीटी शिक्षकों की भर्ती में हुए घोटाले के संबंध में दिल्ली की रोहिणी कोर्ट स्थित सी.बी.आई. की विशेष अदालत ने हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओम प्रकाश चौटाला व उनके पुत्र अजय सिंह चौटाला सहित दस लोगों को दस-दस साल कैद की सजा सुनाई थी। इस मामले में एक दोषी पुष्करमल वर्मा को पांच साल कैद व 44 आरोपियों को चार-चार साल कैद की सजा सुनाई गई थी। 
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You