टोहाना के निजी अस्पताल पूर्णतया बन्द, मरीज हो रहे अग्रोहा शिफ्ट

  • टोहाना के निजी अस्पताल पूर्णतया बन्द, मरीज हो रहे अग्रोहा शिफ्ट
You Are HereHaryana
Friday, December 15, 2017-6:02 PM

टोहाना(सुशील सिंगला):क्लीनिकल एस्टेब्लिशमेंट एक्ट- 2010 के विरोध में प्रदेशभर के निजी चिकित्सक हड़ताल पर हैं। इसमें टोहाना के निजी चिकित्सकों की पूरी भागेदारी रही। सभी ने अपने मुख्य द्वार पर ही हड़ताल के बैनर लगा दिए। स्टाफ द्वारा गेट से ही मरीजों को सरकारी अस्पताल में जाने की सलाह दी जा रही थी, क्योंकि सारे निजी अस्पताल हड़ताल पर है। सीमावर्ती क्षेत्र होने के चलते टोहाना में पजांब से मरीजों की अावाजाही रही, उन्हें हड़ताल की सूचना नहीं थी। अोपीडी के साथ-साथ अापातकाल की सभी सेवाएं पुरी तरह से बंद हैं।
PunjabKesari
महिला, बच्चे और हड्डी टूटने के मरीज सेवाएं बंद होने के चलते इधर उधर भटक्ते नजर अाए। मरीजों को अग्रोहा काॅलेज में शिफ्ट करने की सलाह दी जा रही है।
PunjabKesari
वहीं सामान्य अस्पताल के सीएमओ डा.सतीश गर्ग ने बताया कि हड़ताल से निपटने के लिए पूरे इंतजाम किए गए हैं। टोहाना का मेडिकल एन्क्लेव जो कि निजी स्वास्थ्य सुविधाओं का हब माना जाता था।
PunjabKesari
जहां अक्सर चहल-पहल रहती थी वह अाज एकदम सुनसान पड़ा है। आईएमए टोहाना के सचिव डा. मोहित गुप्ता ने बताया कि सरकार के इस कानून के आने से मरीजों पर काफी आर्थिक बोझ पड़ेगा इसलिए इस कानून का विरोध किया जा रहा है अगर सरकार अभी भी नहीं चेती तो आने वाले समय में प्रदेश की कार्यकारणी के निर्देश पर कोई बड़ा कदम भी उठाया जा सकता है।
PunjabKesari
कुल मिलाकर आज सुविधाएं सुबह 6 बजे से रात 12 बजे तक बन्द रहेगी। वही परेशान मरीजों का कहना था कि आपातकाल सुविधांए चिकित्सकों द्वारा अवश्य दी जानी चाहिए जिससे मरीजों को असुविधा का सामना ना करना पड़े। 
 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन