Subscribe Now!

पद्मावत पर लगी रोक हटी, विज बोले - SC के फैसले का करेंगे सम्मान(VIDEO)

You Are HereHaryana
Thursday, January 18, 2018-4:54 PM

चंडीगड़(चंद्रशेखर धरणी):विवादों से जुड़ी संजय लीला भंसाली की फ़िल्म पद्मावती से फिल्म का नाम पद्मावत भले ही कर दिया गया हो परन्तु इसके बावजूद फ़िल्म का विरोध जारी है। अब सुप्रीम कोर्ट से फ़िल्म की रिलीज को लेकर हरी झंडी मिल गई है। जिसके बाद इस फ़िल्म की रिलीज पर बैन लगाने वाली हरियाणा सरकार के तेवर नरम पड़ गए हैं। कैबिनेट में फ़िल्म की रिलीज पर बैन की मांग रखने वाले हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने सुप्रीम कोर्ट के आदेशों को सिर माथे पर स्वीकार करते हुए कोर्ट का सम्मान किया है।

संजय लीला भंसाली की फ़िल्म पद्मावती के दृश्यों और कहानी को लेकर राजपूत समाज के लोगों को घोर आपत्ति थी जिसे लेकर कई प्रदेशों में लोगों ने रोष प्रदर्शन भी किए और फ़िल्म को रिलीज न होने देने की मांग की। समाज में फ़िल्म के बढ़ते विरोध और कानून व्यवस्था बिगड़ने की संभावनाओं को देखते हुए कई प्रदेशों की सरकारों ने अपने राज्य में फ़िल्म की रिलीज पर बैन लगा दिया जिसमें हरियाणा सबसे पहले आगे आया। हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज ने राजपूत समाज की भावनाओं को देखते हुए एक नही बल्कि दो बार कैबिनेट की मीटिंग में फ़िल्म को बैन किए जाने का प्रस्ताव रखा जिस पर खट्टर सरकार ने मुहर भी लगाई थी। 

परन्तु अब इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला देते हुए फ़िल्म पद्मावत की रिलीज को हरी झंडी दे दी है। देश के सर्वोच्च न्यायालय से आए इस बड़े फैसले का सम्मान करना प्रदेश सरकार के लिए जरूरी भी है और मजबूरी भी। सुप्रीम कोर्ट की ओर से प्रदेश सरकारों को फ़िल्म की रिलीज के साथ- साथ कानून व्यवस्था के पुख्ता इंतजाम करने की भी हिदायतें दी हैं। ऐसे में हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट तो सुप्रीम है। 


 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन