Subscribe Now!

पंचायत ने छ: युवकों का मुंह किया काला, मारे पांच जूते, यह थी वजह...(Video)

You Are HereHaryana
Saturday, February 3, 2018-6:01 PM

नूंह(एके बघेल): मेवात जिले के डोंडल गांव की पंचायत ने राजस्थान के गाधानेर गांव के छ: युवकों का मुंह काला कर पांच जूते मारने का फरमान सुनाया। फरमान पर बाकायदा अमल भी किया गया। इन युवकों पर 51 हजार रूपये जुर्माना भी लगाया गया। इन छ: युवकों को मिली इस सजा की वजह यह है कि इन्होंने गांव की महिलाओं व लड़कियों को लेकर अश्लीलता भरी टिप्पणी करने का एक वीडियो वायरल किया था। इनकी इस करतूत से नाराज ग्रामीणों ने इन्हें यह सजा सुनाई है।

PunjabKesari

जानकारी के मुताबिक, राजस्थान के पहाड़ी थाना के अंतर्गत आने वाले गांव गाधानेर के छ: युवकों ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो 21 जनवरी को अपलोड की थी। इसमें गांव की महिलाएं तालाब पर कपड़े धो रही थीं। तभी इन युवकों ने इन महिलाओं का वीडियो बनाकर इस गांव की महिलाओं व लड़कियों के बारे में  अश्लील टिप्पणी की गई।

इस वीडियो के सोशल मीडिया पर वायरल होने से बड़ेड़ गांव के साथ-साथ असापास के कई गावों के लोगों में इन युवकों के प्रति रोष पनप गया। इस मामले को लेकर 6 गावों के लोगों की पंचायत डोंडल गांव में हुई, जिसमें सैकड़ों जिम्मेदार लोग शामिल हुए।

PunjabKesari

कई घंटों तक चली पंचायत ने फरमान सुनाए जाने के बाद गाधानेर के इन छ: युवकों का मुंह काला किया गया। इन मनचलों को गांव के चौकीदार से 5-5 जूते लगवाए गए।  जिसमें आरोपी सभी लड़कों ने अपना जुर्म कबूल कर लिया। पंचायत ने  51 हजार रूपये का जुर्माना(आर्थिक दंड ) की सजा सुनाई व चेतावनी देकर छोड़ दिया गया। बताया जा रहा है कि बिरादरी के फैसले के बाद मामला रफा दफा कर दिया गया है। 

बता दें कि बडेड गांव के पहाड़ में एक तालाब बना हुआ है जहां पर अक्सर गांव की बेटियां और महिलाएं कपड़े धोने जाती हैं। राजस्थान का गांव गाधानेर जो बडेड गांव से मात्र आधा किलोमीटर दूर है। वहां के करीब छ: मनचले लड़के पहाड़ पर आए और कपड़े धोती हुई महिलाओं की वीडियो बना ली और वीडियो में अपनी तरफ से गांव की बेटियों के बारे में बेदह ही अभद्र भाषा की इस्तेमाल कर उसे सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। 

PunjabKesari

जानकारी के मुताबिक, वीडियो को लेकर उन्होने आरोपियों की पहचान कर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को लेकर पुनहाना थाने की चांदडाका पुलिस चौकी में 25 जनवरी को लिखित शिकायत दी थी। पुलिस ने पहाड़ में मौके पर जाकर मुआयना किया। जहां चौकी प्रभारी ने यह कहते हुऐ मुकदमा दर्ज करने से मना कर दिया कि जहां की वीडियो बनाई गई है वह राजस्थान का इलाका पड़ता है, इसलिए वह इसमें कोई कार्रवाई नहीं कर सकते।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन