Subscribe Now!

गैंगरेप पर विपक्ष ने सरकार को घेरा, मांगा CM खट्टर से इस्तीफा

  • गैंगरेप पर विपक्ष ने सरकार को घेरा, मांगा CM खट्टर से इस्तीफा
You Are HereHaryana
Tuesday, January 16, 2018-9:41 AM

चंडीगढ़(ब्यूरो): हरियाणा में महिला विरुद्ध अपराधों ने एक बार फिर से सिर उठाना शुरू कर दिया है। इन दिनों जहां निरंतर बलात्कार की घटनाओं में इजाफा हो रहा है, वहीं इन पीड़िताओं की हत्याएं भी आम हो गई हैं। ऐसे में बढ़ते अपराधों के दरमियां अब प्रदेश की सियासत में भी उबाल आ गया है। तमाम विपक्षी दलों ने इन सभी मुद्दों को लेकर मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पर निशाना साधते हुए सरकार को आड़े हाथों लिया है। विपक्षी दलों के नेताओं का कहना है कि हरियाणा में इन अपराधों ने सरकार की कथनी और करनी का खुलासा कर दिया है जिससे साफ जाहिर है कि सरकार महज कागजों पर ही बेटी बचाने की दिशा में हाथ पांव मार रही है। प्रदेश में हो रहे इन अपराधों पर चिंता जाहिर करते हुए मुख्य विपक्षी दल इनेलो ने जहां मुख्यमंत्री खट्टर से नैतिकता के आधार पर इस्तीफा मांगा है तो वहीं कांग्रेस व आम आदमी पार्टी ने भी साफ किया है कि हरियाणा क्राइम हब बन गया है।
PunjabKesari
बेटियों की रक्षा करने में सरकार फेल: सुरजेवाला
कांग्रेस के राष्ट्रीय मीडिया प्रभारी रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि गैंगरेप व बलात्कार की घटनाओं से प्रदेश शर्मसार हो रहा है व भाजपा शासन की ही गलत नीतियों का परिणाम है कि हरियाणा ‘क्राइम हब’ बन गया है। उन्होंने कहा कि खट्टर सरकार के अब गद्दी छोड़ने का समय आ गया है। बेटियों से हर रोज अनाचार, छेड़छाड़, वहशीपन और बलात्कार हो रहे हैं, जिससे मानवता शर्मसार हो रही है लेकिन इसके बावजूद प्रदेश की खट्टर सरकार को कानून व्यवस्था से कोई सरोकार नहीं है। इसलिए इस महिला विरोधी सरकार को बदलने का समय आ गया है। सुरजेवाला ने कहा कि प्रदेश में पिछले तीन दिनों में बेटियों से गैंगरेप की चार घटनाएं सामने आई हैं, जिससे प्रदेश की महिलाएं पूर्णत्या असुरक्षित महसूस कर रही हैं। जनता का कानून व्यवस्था से पूरी तरह से विश्वास उठ गया है और भाजपा सरकार सोई पड़ी है। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद में एक बच्ची का किडनैप कर उससे चलती गाड़ी में गैंगरेप किया गया। 
PunjabKesari
मुख्यमंत्री खुद दें इस्तीफा: चौटाला
बच्चियों के साथ बढ़ते बलात्कार व हत्याओं के मामलों को लेकर नेता प्रतिपक्ष अभय चौटाला ने सरकार की निंदा करते हुए मुख्यमंत्री से त्याग पत्र की मांग की है। अभय चौटाला ने इस बात पर चिंता व्यक्त की कि अकेले पानीपत जिले में ही पिछले कुछ दिनों में बच्चियों के साथ दुष्कर्म और उनकी हत्या की चार जघन्य घटनाएं घट चुकी हैं। इसके अतिरिक्त अभी हाल में कुरुक्षेत्र के गांव झांसा निवासी 15 वर्षीय लड़की की भी बलात्कार के पश्चात अपराधियों ने नृशंसता के साथ हत्या कर दी। उन्होंने याद दिलाया कि जब वर्ष 2012 में दिल्ली में निर्भया के साथ सामूहिक बलात्कार के बाद उसकी क्रूरतापूर्वक हत्या कर दी गई थी तब देश की सामूहिक चेतना ने एक स्वर में विरोध करते हुए देश में विद्रोह की स्थिति पैदा कर दी थी। गत वर्ष प्रतिदिन औसतन 4 बलात्कार की घटनाओं के मामले पुलिस द्वारा दर्ज किए गए थे। भाजपा के शासनकाल में जहां पहले 8 घंटे में एक रेप होता था अब 6 घंटे में हो रहा है।
PunjabKesari
हरियाणा में महिला सुरक्षा खत्म: जयहिंद
आम आदमी पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद ने प्रदेश में हो रहे बलात्कार व हत्याओं के मामले में प्रदेश सरकार की कड़े शब्दों में आलोचना करते हुए कहा कि 2015 में प्रधानमंत्री मोदी के बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ अभियान की शुरूआत करने के बावजूद पानीपत जिला भी ऐसी घटनाओं से अछूता नहीं रह पाया। गैंग रेप की घटनाएं शर्मनाक हैं। प्रदेश सरकार की लापरवाही व खराब कानून व्यवस्था के कारण इस तरह की दरिंदगी करने वाले लोग की हौसले बढ़े हुए हैं। वर्ष 2017 में जहां 9523 महिलाएं अपराधों का शिकर हुईं तो वहीं हरियाणा गैंग रेप के मामले में 204 गैंगरेप के साथ पूरे भारत में चौथे स्थान पर है। इसी प्रकार दहेज उत्पीड़न में डेथ मामले 229 हुए हैं। रेप 1238, एटेम्पट टू रेप 141, विभिन्न स्थानों में छेड़छाड़ के 2039 केस दर्ज, किडनैपिंग 2432 केस दर्ज हुए, एसिड अटैक 5 केस दर्ज, महिला तस्करी 15 केस व हिनीयस अपराध की श्रेणी जहां पर गैंगरेप व रेप के बाद हत्याएं हुई ऐसे भी सैकड़ों मामले हरियाणा में हैं।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन