कुर्सी न मिलने से नाराज हुए विधायक, बोले- आज भी हूं गुलाम

  • कुर्सी न मिलने से नाराज हुए विधायक, बोले- आज भी हूं गुलाम
You Are HereHaryana
Thursday, August 17, 2017-10:35 AM

भिवानी (पंकेस):स्वतंत्रता दिवस समारोह में बवानीखेड़ा के विधायक को सीट न मिलने पर वह कार्यक्रम छोड़कर चल दिए। हालांकि जिला प्रशासन विधायक को मनाने में कामयाब हो गया। वहीं, डी.सी. अंशज सिंह ने प्रैस विज्ञप्ति जारी कर कार्यक्रम में विधायक के लिए कुर्सी होने तथा उस कुर्सी पर कार्यकर्ता बैठने का हवाला दिया है। भीम खेल परिसर में स्वतंत्रता दिवस समारोह में बवानीखेड़ा विधायक बिशम्भर वाल्मीकि थोड़ी देरी से पहुंचे। उस वक्त ध्वजारोहण किया जा रहा था। विधायक मंच पर पहुंचे लेकिन कोई भी कुर्सी खाली नहीं दिखी और विधायक को खड़ा देख किसी पार्टी कार्यकर्ता या पदाधिकारी ने भी कुर्सी नहीं छोड़ी। अपने आप में अपमानित महसूस करते हुए विधायक मंच से उतरे और अपनी गाड़ी में बैठकर निकलने लगे। इस दौरान जिला प्रशासन को मामले की जानकारी लगी तो अधिकारी उनको मनाने पहुंच गए।

सी.एम. से करूंगा शिकायत:बिशम्भर
विधायक बिशम्भर ने कहा कि वे आज भी गुलाम हैं, क्योंकि उनको मंच पर बैठने तक की जगह नहीं दी गई। वे त्यागपत्र दे सकते हैं। वे मामले की शिकायत सी.एम. को करेंगे। चूंकि उनको जनप्रतिनिधि होने के बावजूद जगह नहीं मिली।

समुचित व्यवस्था थी, कार्यकर्ता बैठ गए सीट पर:डी.सी.
डी.सी. अंशज सिंह ने बताया कि समारोह में प्रशासन ने गण्यमान्यों के बैठने के लिए मंच पर समुचित व्यवस्था की थी। विधायक बिशम्भर वाल्मीकि के लिए मंच पर सीट निर्धारित की थी और सीटों पर बाकायदा संबंधित नामों से स्लिप भी लगाई थी लेकिन ध्वजारोहण के समय पार्टी के कार्यकत्र्ता उस पर बैठ गए। मामला संज्ञान में आने पर प्रशासन ने विधायक को उनकी सीट मुहैया करवा दी थी।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You