एक और 'कातिल बाबा' गिरफ्त में, चेले का मर्डर कर डेरे में दफनाया शव(Watch video)

You Are HereHaryana
Friday, November 17, 2017-6:14 PM

गोहाना(सुनील जिंदल): गोहाना के रिंढ़ाणा गांव में सरभंगी डेरा के संचालक द्वारा अपने चेले की हत्या कर शव को डेरे के पीछे दफनाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने मृतक के परिजनों के बयान पर संचालक के खिलाफ हत्या अौर शव को खुर्द-बुर्द करने का मामला दर्ज कर आरोपी बाबा को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी की शिनाख्त पर शव को मिट्टी से निकलवाकर पोस्टमार्टम के लिए गोहाना के नागरिक अस्पताल में भेज दिया है। 
PunjabKesari
मृतक सत्यवान के परिजनों ने बताया कि वह सोनीपत के दुबैटा गांव का रहने वाला था। वह सात साल पहले अपने घर को छोड़ कर बाबा बन गया था। वह करीब तीन साल पहले गांव रिंढ़ाणा में सरभंगी डेरे में कृष्ण गिरी महराज के पास आकर रहने लग गया था। सत्यवान एक हाथ से अपाहिज था और गांव में भीक्षा मांग कर अपना काम चलता आ रहा था। 
PunjabKesari
14 नवंबर को परिजनों को पता लगा कि सत्यवान की हार्ट अटैक से मौत हो गई और उसको डेरे के पीछे समाधी दे दी गई है। लेकिन मृतक के परिवार वालों को बात हजम नहीं हुई और उन्होंने कल देर शाम बरोदा थाना पुलिस में सत्यवान की हत्या का शक जाहिर करते हुए डेरे के संचालक कृष्ण गिरी के खिलाफ शिकायत थी। जिस पर पुलिस ने कृष्ण गिरी को गिरफ्तार कर लिया और आरोपी ने पूछताछ के दौरान अपना जुर्म भी कबूल कर लिया। जिसके बाद पुलिस ने आरोपी की शिनाख्त पर शव को मिट्टी से निकाल कर पोस्टमार्टम के लिए गोहाना के नागरिक अस्पताल में भेज दिया। मृतक के परिजन अब इस मामले में आरोपी डेरे संचालक के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाने की मांग कर रहे हैं। 
PunjabKesari
आरोपी डेरे संचालक कृष्ण गिरी ने बताया कि 13 नवम्बर की रात डेरे में दूध गर्म करने को लेकर मृतक सत्यवान से उसकी कहा सुनी हो गई थी। जिसको लेकर उसने दूध गर्म करने वाले बर्तन को सत्यवान के सिर पर मार दिया अौर उसकी मौत हो गई। उसने मृतक के परिजनों को हार्ट अटैक कारण बताया अौर शव को दफना दिया था।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!