एक तरफ दिवाली की धूम, वहीं आखों में आंसू लिए बच्चों का इंतजार कर रही बुजुर्ग माताएं

  • एक तरफ दिवाली की धूम, वहीं आखों में आंसू लिए बच्चों का इंतजार कर रही बुजुर्ग माताएं
You Are HereKarnal
Thursday, October 19, 2017-12:55 PM

करनाल(कमल मिड्ढा): जहां पूरा देश दीपावली के जश्न में डूबा है वहीं करनाल के निर्मल धाम के वृद्ध आश्रम में रह रही मांएं अपने बच्चों का इंतजार कर रही हैं कि कब इनके बच्चे उनसे मिलने आए। निर्मल धाम के वृद्ध आश्रम में रहने वाली किसी मां का बेटा विदेश में है, कोई डॉक्टर तो कोई ऊंचे पद पर है। बच्चों ने अपनी बजुर्ग मां को उस वक्त वृद्ध आश्रम में छोड़ा जिस वक्त उनकी माताओं को उनकी जरूरत थी। आश्रम में रहने वाली माताअों के लिए कोई त्यौहार अब मायने नहीं रखता है।
PunjabKesari
वृद्ध आश्रम में वृद्ध माताअों को हर तरह की सुख सुविधा और एक अच्छा माहौल मिलता है लेकिन समय-समय पर हर त्यौहार पर उन्हें अपने उन बच्चों की याद आती है। जिन बच्चों को कामयाब बनाने के लिए जिन्होंने अपना सारा जीवन लगा दिया वे शायद कुछ ज्यादा ही कामयाब हो गए और अपनी माताअों को वृद्ध आश्रम में रहने को मजबूर कर दिया।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You