नेपाल बार्डर पर नहीं मिले हनीप्रीत के सुराग

  • नेपाल बार्डर पर नहीं मिले हनीप्रीत के सुराग
You Are HereHaryana
Monday, September 11, 2017-8:49 AM

चंडीगढ़ (अविनाश पांडेय):साध्वी यौन शोषण प्रकरण में सलाखों के पीछे पहुंचे डेरा प्रमुख की अहम राजदार हनीप्रीत के बारे में अभी तक हरियाणा पुलिस को कोई ठोस सुराग हाथ नहीं लगा सका है। हालांकि हरियाणा पुलिस की कई टीमें नेपाल-यू.पी. बार्डर की खाक छान रही हैं, लेकिन यू.पी. के लखीमपुर खीरी के रास्ते नेपाल में जाने की सूचना महज अफवाह साबित हुई है। लखीमपुर खीरी में जिस पंजाब नंबर की लावारिस कार के जरिए हनीप्रीत के नेपाल में जाने की बात कही जा रही थी वह झूठी निकली। 

यू.पी. पुलिस की मानें तो उक्त कार पंजाब के लुधियाना निवासी की है जो लखीमपुर खीरी में रह रहा है। पुलिस ने उक्त गाड़ी को मालिक के सुपुर्द कर दिया है। फिलहाल हरियाणा पुलिस ने यू.पी. से सटे नेपाल बार्डर की तीनों सीमाओं पर तैनात सुरक्षा कर्मियों को हनीप्रीत की फोटो मुहैया करवाई, जिसमें किसी भी जानकारी पर हरियाणा पुलिस को सूचना देने को कहा गया है। बीते 25 अगस्त को पंचकूला की सी.बी.आई. कोर्ट से डेरा प्रमुख को दोषी करार दिए जाने के बाद हनीप्रीत सुनारिया जेल तक उनके साथ नजर आई थी। पिछले 17 दिनों से हनीप्रीत का कोई सुराग नहीं है। 

हनीप्रीत को लेकर हरियाणा पुलिस लगातार सर्च कर रही है। बताया गया कि पुलिस की टीमों ने यू.पी.-नेपाल बार्डर पर तैनात यू.पी. और कस्टम के अफसरों से कई वाहनों के नेपाल में प्रवेश करने को लेकर तहकीकात की, लेकिन वहां से उसे जानकारी नहीं मिल सकी है।

हत्या की आशंका पर पुलिस कर रही जांच
पुलिस हनीप्रीत की हत्या की आशंका के ङ्क्षबदुओं पर भी काम कर रही है। पुलिस को कई दिन पहले ही इस बात के संकेत मिले थे कि डेरा प्रमुख और डेरे का राज दबाने के लिए हनीप्रीत की हत्या भी की जा सकती है। हालांकि अभी तक हरियाणा पुलिस की एस.आई.टी. के पास ऐसे कोई साक्ष्य सामने नहीं आए हैं। 

खीरी के रास्ते नेपाल नहीं गई हनीप्रीत: SP
लखीमपुर खीरी के एस.पी. ग्रामीण घनश्याम चौरसिया ने बताया कि हनीप्रीत को तलाशने के लिए हरियाणा पुलिस की एक टीम उनके यहां आई थी। हरियाणा पुलिस की टीम ने नेपाल बार्डर पर तैनात यू.पी. पुलिस और कस्टम के सुरक्षा कर्मियों को जिन वाहनों की लिस्ट सौंपी, उक्त वाहनों की नेपाल में कोई एंट्री नहीं है। उन्होंने बताया कि हरियाणा पुलिस के वहां पर आने के बाद ही मीडिया की ओर से पंजाब नंबर की एक लावारिस कार में हनीप्रीत के नेपाल जाने की बात कही गई जो पुलिस जांच में झूठी साबित हुई है। एस.पी. ग्रामीण ने बताया कि बार्डर पर तैनात सुरक्षा कर्मियों को हनीप्रीत के बारे में जानकारी दे दी गई है और जैसे ही कोई सूचना मिलती है तो हरियाणा पुलिस को इस बारे में जानकारी दी जाएगी। इसके अलावा यू.पी. के बहराइच जिले के नेपाल बार्डर पर भी हनीप्रीत की फोटो भेजी गई है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You