युवक ने ट्रेन के आगे कूदकर की आत्महत्या, सुसाइड नोट में दिल्ली पुलिस को ठहराया दोषी

  • युवक ने ट्रेन के आगे कूदकर की आत्महत्या, सुसाइड नोट में दिल्ली पुलिस को ठहराया दोषी
You Are HereHaryana
Monday, September 25, 2017-6:09 PM

सोनीपत(पवन राठी): सोनीपत के गांव छतेहरा निवासी सुनील ने ट्रेन के सामने कुदकर अपनी जीवनलीला समाप्त कर ली। वहीं सुनील के पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है जिममेें उसने अपनी मौत का जिम्मेवार दिल्ली पुलिस को ठहराया है। वहीं मृतक के परिजनों ने भी दिल्ली पुलिस पर गंभीर आरोप लगाया है और कार्रवाई की मांग की है। जीआरपी पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। 
PunjabKesari
जानकारी के अनुसार सुनील सोनीपत के गांव छतेहरा का रहने वाला था और पिछले दस साल से आजादपुर दिल्ली मंडी में बतौर सुरक्षाकर्मी के पद पर तैनात था। उल्लेखनीय है कि 13 तारीख को सुबह मंडी में सुरक्षा इंजार्च सुमेर की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी और उसके बाद वहीं पर मौजूद सुनील ने उसे उठाकर गाड़ी में डाला था। जिसके बाद दिल्ली पुलिस ने उसे पूछताछ के लिए बुलाया था। सुनील ने अपने सुसाइड नोट में साफ लिखा है कि उसने तो अपने अफसर को उठाया था और उसके बाद दिल्ली पुलिस उसे 25 बार बुला चुकी है। जिससे वह डर चुका है। वहीं उसने अपने अफसर के लिए भी लिखा है कि अपराधी को फांसी हो। 
PunjabKesari
जीआरपी थाना प्रभारी ने बताया है कि सूचना मिली थी कि एक युवक ने सुसाइड कर ली है उसके बाद मौके पर पहुंचे और देखा तो उसकी पहचान सुनील निवासी छतेहरा के रूप में हुई है। उसके पास से एक सुसाइड नोट भी मिला है जिसकी जांच चल रही है। 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!