बुढ़ापे में पिता की मौत का कारण बना बेटा, जहर खाकर की आत्महत्या

  • बुढ़ापे में पिता की मौत का कारण बना बेटा, जहर खाकर की आत्महत्या
You Are HereBhiwani
Saturday, October 21, 2017-4:58 PM

भिवानी(अशोक भारद्वाज): लोग अपने बच्चों को बड़ा करते हैं ताकि बुढ़ापे में उनका सहारा बने लेकिन भिवानी में एक बेटा अपने पिता की मौत का कारण बना। भिवानी के हेतमपुरा गांव में एक व्यक्ति ने अपने ही बेटे व उसके ससुराल पक्ष के लोगों से तंग आकर अपने घर में जहर खाकर आत्महत्या कर ली। फिलहाल मृतक की पत्नी की शिकायत पर पुलिस ने पांच आरोपियों के खिलाफ हत्या के लिए मजबूर करने का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 
PunjabKesari
बेटे से तंग आकर खाया जहर
हेतमपुरी गांव निवासी जगदीश(48) खेतीबाड़ी का काम कर अपने घर का गुजारा कर रहा था। मृतक अपने बेटे देवेंद्र अौर उसके ससुराल पक्ष के लोगों से तंग रहता था। आरोप है कि जगदीश का बेटा देवेंद्र प्रेमविवाह कर भिवानी शहर में अपनी पत्नी के साथ रहता है और एक कोचिंग सेंटर चला रहा है। वह जमीन व पैसे को लेकर अक्सर अपने पिता के साथ अनबन करता रहता है। इसी से तंग आकर जगदीश ने अपने घर में जहर खाकर आत्महत्या कर ली।
PunjabKesari
पांच लोगों पर केस दर्ज
पुलिस में दर्ज शिकायत में मृतक जगदीश की पत्नी गुड्डी ने आरोप लगाया है कि उसके बेटा देवेन्द्र, उसकी पत्नी मनीषा, ससुर रिछपाल, सास कौशल्या व साला विक्की पैसे की मांग कर उसके पति को तंग करते थे। जांच अधिकारी लालजीत एएसआई ने बताया कि गुड्डी की शिकायत पर पांचों आरोपियों के खिलाफ पर्चा दर्ज कर जांच शुरु कर दी है।
PunjabKesari
बेटा धमकी देकर करता था तंग
वहीं मृतक के भाई नारायण ने बताया कि जगदीश का बेटा देवेंद्र पहले अपने ससुराल पक्ष के लोगों के साथ जमीन मांग रहा था। इस पर जगदीश ने अपने 8 एकड़ जमीन में से उसके हिस्से की दो एकड़ जमीन उसके नाम करवा दी। इसके बाद वे पैसे के लिए दबाव बनाने लगे और जगदीश के हस्ताक्षर हुई चैकबुक ले गए और करीब अढाई लाख से ज्यादा की रकम भर कर दो चैक बैंक में लगाने की धमकी देने लगे। जिससे आहत होकर जगदीश ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। उन्होने मांग की है कि आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You