गौशाला की लापरवाही से 14 गायों की मौत, ग्रामीणों ने लगाया जाम

  • गौशाला की लापरवाही से 14 गायों की मौत, ग्रामीणों ने लगाया जाम
You Are HereHaryana
Sunday, December 17, 2017-9:38 PM

रोहतक(दीपक भारद्वाज): मोखरा स्थित गऊशाला में अव्यवस्थाओं के चलते रविवार को 14 गायों की मौत हो गई। हालांकि अभी मौत के कारणों का पता नहीं लग पाया है। माना जा रहा है कि सर्दी की वजह से गायों की मौत हुई है। गऊशाला में हुई गायों की मौत को लेकर ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया और गऊशाला के सामने महम बसाना रोड पर जाम लगा दिया। ग्रामीणों का कहना था कि बार-बार प्रशासनिक अधिकारियों को गऊशाला की अव्यवस्था बताने के बावजूद भी कोई ध्यान नहीं दिया गया, जिसकी बजह से गायों की मौत हुई है। करीब ढाई घंटे तक ग्रामीण सडक़ पर डटे रहे। बाद में कलानौर व महम थाना प्रभारी ने मौके पर पहुंच कर जाम खुलवाया।

PunjabKesari

जानकारी के मुताबिक, शनिवार देर रात को गांव मोखरा स्थित गऊशाला में 14 गायों की मौत हो गई। जब इस बारे में ग्रामीणों का पता चला तो वह गऊशाला के बाहर एकत्रित हो गए और उन्होंने गायों के शवों को सडक़ के बीचों बीच रखकर जाम लगा दिया। जाम के कारण थोडी देर में वाहनों की लम्बी कतारे लग गई। सूचना मिलने पर महम व कलानौर थाना प्रभारी मौके पर पहुंचे, लेकिन ग्रामीणों ने जाम खोलने से मना कर दिया। ग्रामीणों का कहना था कि प्रशासन की लापरवाही के चलते गायों की मौत हुई है। गऊशाला में गायों के लिए कोई इंतजाम नहीं है। यहां तक कि कई शैड भी नहीं है। बार बार शिकायत करने के बावजूद भी अधिकारियों ने इस और कोई ध्यान नहीं दे रहे है, जिसके कारणों गायों की मौत हुई है।

PunjabKesari

ग्रामीणों ने यह भी बताया कि अभी भी गऊशाला में काफी गायों की हालत नाजुक है और उनकी भी मौत हो सकती है। गायों की मौत की सूचना पाकर पशु पालन विभाग के चिकित्सा अधिकारी भी मौके पर पहुंचे और इस बारे में गऊशाला संचालक से बात की। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि गायों की मौत सर्दी लगने की बजह से हुई है। थाना प्रभारी के आश्वासन पर ग्रामीण ने जाम खोल दिया और वह इस बारे में सोमवार को जिला उपायुक्त से मुलाकात करेंगे। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन