Subscribe Now!

पद्मावत का विरोध: कुरूक्षेत्र के मॉल में हुई तोडफ़ोड़ के साथ फायरिंग(Video)

You Are HereHaryana
Sunday, January 21, 2018-10:19 PM

कुरूक्षेत्र(रणदीप रोड़): धर्मनगरी कुरूक्षेत्र के एकमात्र केसल मॉल में फिल्म पद्मावत के विरोध में तोडफ़ोड़ के साथ-साथ फायरिंग भी की गई। आतंक मचाने वाले बदमाशों में करीब दो दर्जन बाईक सवार शामिल थे। घटना रविवार शाम करीब आठ बजे की है। बदमाशों की हरकतें सीसीटीवी में कैद हो गई हैं। इस तरह घटना को अंजाम दिए जाने के बाद मॉल में अफरा-तफरी मचगई। हरियाणा में पद्मावत के रिलीज के विरोध को लेकर तोड़फोड़ का यह पहला मामला है जो सामने आया है।

कुरुक्षेत्र का पाश  इलाके के सेक्टर-17 में स्थित मॉल और शॉपिंग सेंटर रविवार होने के चलते खचाखच भरा हुआ था। अचानक हुई फायरिंग से पूरे मॉल में अफरा-तफरी जैसा माहौल पैदा हो गया। बताया जा रहा है कि ये तोडफ़ोड़ फिल्म पद्मावत के विरोध में की गई। हालांकि यह फिल्म 25 जनवरी को रिलीज होनी है लेकिन चार दिन पहले ही विरोधियों द्वारा आतंक मचाए जाने से साफ जाहिर हो रहा है कि ये बदमाश रिलीज होने वाले दिन किस हद तक जा सकते हैं। ऐसे में लोगों की सुरक्षा के लिए प्रशासन को सतर्क हो जाना चाहिए।

PunjabKesari

सीसीटीवी में साफ दिख रहा है कि बदमाश हाथ रॉड जैसे हथियार लेकर शीशे पर वार कर के शीशों को चकना चूर कर दिया, वहीं सीढिय़ों पर पहले से बैठी महिलाएं व अन्य लोग अपना बचाव करने के लिए वहां से भागने लगे।

PunjabKesari

मॉल के सुरक्षा कर्मी जसबीर सिंह ने कहा, हमलावर हथियारों से लेस थे और उन्होंने तांडव किया। वहीं महिला सुरक्षा कर्मी अनीता और माल प्रबंधक रमेश सचदेवा ने फायरिंग होने की बात कही।

PunjabKesari

फिलहाल, थाना प्रभाारी मलकीत सिंह ने बताया कि पुलिस ने सीसीटीवी कब्जे में ले लिया है। पुलिस का दावा है कि सीसीटीवी में कैद हुए बदमाशों की पहचान कर उन्हें जल्द ही गिरफ्तार किया जाएगा, कुछ की पहचान हो भी गई है, जिनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि फायरिंग किए जाने की जांच अभी चल रही है।

PunjabKesari

कुछ लोगों का कहना है कि ये युवक करणी सेना के हो सकते हैं क्योंकि सेंसर बोर्ड ओर सुप्रीम कोर्ट से छूट मिलने के बाद फिल्म पद्मावत को रिलीज किया जाना था। करणी सेना ने चेतावनी दी हुई है कि यदि फिल्म रिलीज हुई तो अंजाम बुरा होगा। लोगों का यह मानना है कि इस दहशत को फैलाने का मकसद फिल्म को बॉक्स ऑफिस पर ना दिखाना है।

उल्लेखनीय है कि फिल्म पद्मावत को लेकर पूरे देश भर में इतिहास से छेड़छाड़ का आरोप फिल्म निर्देशक संजय लीला भंसाली पर लगा है। फिल्म पद्मावत के खिलाफ राजपूत समाज रोष प्रदर्शन कर रहे हैं। जिस कारण देश के विभिन्न राज्यों गुजरात, एमपी, राजस्थान में बैन कर दिया गया था, इसी क्रम में कुछ दिन पहले हरियाणा में भी पद्मावत पर बैन लगाया। लेकिन बाद में सुप्रीम कोर्ट ने तक्ष्तापलट करते पद्मावत को पूरे देश में चलाए जाने का आदेश जारी कर दिया है। इसके बाद भी राजपूत समाज में फिल्म रिलीज से पहले ही सुगबुगाहट है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन