Facebook Live ने बचाई लड़की की इज्जत

You Are HereHaryana
Saturday, August 19, 2017-8:25 PM

गुरुग्राम(राशि मनचंदा):साइबर सिटी गुड़गाव में देर रात एक बार फिर सेक्टर-9  इलाके के ग्रीनवुड स्कूल के पास से युवती के अपहरण की खबर से सनसनी फैल गई।जिसे वारदात स्थल से गुजर रहे बॉबी कटारिया ने पुलिस कर्मियों की मदद से यूपी नंबर बुलेरो के पीछा कर पकड़ने की कोशिश की लेकिन नाकाम रहने और कोई पुलिसया मदद समय पर न मिलने के चलते उन्होंने वीडियो को वायरल कर पुलिसया कार्यशैली के तमाम दावों की पोल खोल कर रख दी है।

परिजनों से मारपीट कर किया युवती का अपहरण
बॉबी का कहना है कैसे एक युवती के घर वालों के साथ मारपीट करके 8-9 लोग युवती को जिप्सी में डालकर चलते बने। इसके बाद बॉबी ने इस वारदात को फेसबुक पर लाइव करते हुए गाड़ी का नंबर भी बता दिया और लोगों से गाड़ी को रोकने की अपील की।सेक्टर-9 से पूरे 6 किलोमीटर तक गाड़ी का पीछा करते हुए बॉबी कमिश्नर ऑफिस तक पहुंचे। 
PunjabKesari
Facebook पर किया वीडियो वायरल
उनका आरोप है कि इस बीच आरोपी सिर्फ सेक्टर-9 की पुलिस चौकी के सामने से गुजरे, बल्कि उनका पीछा करते हुए खुद बॉबी ने तीन पुलिस नाके पार किए। बॉबी फेसबुक पर वीडियो बनाकर डाला कि उसने इस दौरान सेक्टर-9 चौकी के पुलिस कर्मियों को नींद से जगाकर अपने साथ लिया और किडनैपर्स की गाड़ी का पीछा करना शुरू किया।

युवती को छोड़ फरार हुए किडनैपर
हालांकि कुछ देर बाद पता चला कि आरोपी युवक युवती को छोड़कर भाग गए, वहीं पुलिस वाले इस घटना को अफवाह बताकर पल्ला झाड़ रहे हैं। इस घटना को लेकर पुलिस की नाकामी बॉबी के साथ गाड़ी में बैठा पुलिस कर्मचारी असलाह नहीं होने की बात कह रहा है फिर बॉबी से कहने लगा कि आप पकड़ लो। इस पर बॉबी ने कहा कि आपके पास तो डंडा है मेरी तो गाड़ी में डंडा भी नहीं है। मैं एक मिनट में पकड़ लूंगा, पर मेरी सेफ्टी का क्या।
PunjabKesari
कार्रवाई करने की बजाय बॉबी से किए सवाल
इतना ही नहीं कुछ देर बाद आरोपियों के हाथ नहीं आने के चलते बॉबी वापस घटनास्थल पर पहुंचा तो वहां भी एक पुलिस कर्मचारी के साथ अच्छी-खासी बहस हुई। इसी दौरान उसे किडनैप की गई लड़की की मां से भी बात की। लड़की की मां ने लड़की को उठाने की बात कही। बावजूद इसके पुलिस कर्मचारी बॉबी की बात सुनने की बजाय उल्टा उसी से सवाल जवाब करते नजर आया कि वह यहां क्या कर रहा है। इस पर बॉबी ने कहा कि मैं आप लोगों की असलियत दिखा रहा हूं।

100 नंबर की विश्वसनीयता पर सवाल खड़े
उन्होंने तकरीबन 12 बजे के आस-पास इस पूरे मामले की जानकारी पुलिस कंट्रोल रूम को भी देनी चाही लेकिन फोन लगातार व्यस्त आ रहा था। जिसने साइबर सिटी में 100 नंबर की विश्वसनीयता पर गंभीर सवाल जरूर खड़े कर दिए है।
PunjabKesari
घटना को झूठा करार कर रही पुलिस
वहीं इस पूरे मामले के बाद लगातार हो रही फजीहत के बाद गुड़गाव पुलिस इस पूरे मामले को झूठा करार देने की कोशिशों में लगी है। डीसीपी क्राइम की माने तो गुड़गाव पुलिस ने युवती को उसके घर से बरामद किया लेकिन डीसीपी साहब के दावे रात के वीडियो में युवती के मां-बाप के द्वारा लड़की को उठा ले जाने की बातों से अलग लग रहे हैं। 
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You