चिंतन शिविर के पहले दिन बोले सीएम मनोहर- पॉलिटिकल भेदभाव से होगा हरियाणा का विकास

  • चिंतन शिविर के पहले दिन बोले सीएम मनोहर- पॉलिटिकल भेदभाव से होगा हरियाणा का विकास
You Are HereHaryana
Friday, December 15, 2017-9:23 PM

टिम्बरट्रेल/परवाणु(धरणी): हिमाचल के परवाणु में आयोजित 3 दिवसीय चिंतन शिविर के पहले दिन मंत्रिमंडल और अधिकारियों को मुख्यमंत्री ने संबोधित किया। इस शिविर में मिजोरम के पूर्व राज्यपाल ए आर कोहली भी उपस्थित थे। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हमने बिना किसी पॉलिटिकल भेदभाव के हरियाणा को एक ईकाई के रुप में आगे बढ़ाने का संकल्प लिया था और सरकार के निर्णयों को जनता ने स्वीकार किया। इसलिए जनहित में कार्य करने से अधिकारियों को डरना नहीं चाहिए।

मुख्यमंत्री ने कहा कि, हरियाणा सरकार द्वारा हिमाचल के परवाणु में आयोजित चिंतिन शिविर में मंत्रिमंडल और अधिकारियों के साथ हरियाणा के मुद्दों और भविष्य में हरियाणा कैसा हो के विषय पर चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि मैंंने करनालवासियों को कहा कि पूरे हरियाणा का विकास होगा वही और वैसा ही विकास करनाल में भी होगा। इस तरह के कठोर निर्णय जनता के सामने रखे और जनता ने इस निर्णय को स्वीकारा है। 

मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारियों को जनहित में कार्य करने चाहिए। अधिकारी के मन में जनहित में किया जाने वाला कार्य यदि वह बिना पॉलिसी के हो तो अधिकारियों को डरना नहीं चाहिए। उन्होंने कहा कि अधिकारियों और राजनेताओं को मिलकर सोचना चाहिए, जब अधिकारी और राजनेता एक सोच के साथ काम करेंगे तो भविष्य का हरियाणा आने वाली पीढ़ी के लिए एक उदाहरण बनेगा।

उन्होंने कहा कि हमारा एजेंडा प्रदेश का विकास और सेवा करना है। उन्होंने अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि किसी भी कार्य को एक मिशन के तहत करेंगे तो हरियाणा को शिखर पर ले जा सकते हैं। अपने उद्देश्यों को ध्यान में रखते हुए जनता की सेवा करनी है इसके लिए सबको एक टीम के रुप में काम करना है। शिविर में मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव और ए आर कोहली ने हरियाणा सुधार नामक पुस्तक का विमोचन भी किया। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन