भारत का सबसे ऊंचा शिव मंदिर, पूर्ण होने में लगे 39 वर्ष

  • भारत का सबसे ऊंचा शिव मंदिर, पूर्ण होने में लगे 39 वर्ष
You Are HereDharm
Sunday, May 21, 2017-11:08 AM

सोलन शहर से करीब 7 किलोमीटर की दूरी पर भवननिर्माण कला का बेजोड़ नमूना जटोली मंदिर स्थित है। इसे एशिया का सबसे ऊंचा शिव मंदिर माना जाता है। यहां शिवरात्रि को भारी संख्या में शिव भक्त आते हैं। यह शिव मंदिर दक्षिण-द्रविड शैली से बना हुआ है। मंदिर को बनने के लिए करीब 39 साल का समय लगा है। 
PunjabKesari
माना जाता है कि पौराणिक समय में भगवान शिव यहां आए थे अौर कुछ समय के लिए यहां पर रुके भी थे। बाद में बाद में एक सिद्ध बाबा स्वामी कृष्णानंद परमहंस ने यहां आकर तपस्या की। उनके मार्गदर्शन और दिशा-निर्देश पर ही जटोली शिव मंदिर का निर्माण शुरू हुआ। मंदिर के कोने में स्वामी कृष्णानंद की गुफा भा है। यहां पर शिव लिंग स्थापित किया गया है। मंदिर का गुंबद 111 फीट ऊंचा है। इसी कारण ये एशिया का सबसे ऊंचा मंदिर है। 
PunjabKesari
मंदिर कमेटी की अोर से यहां पर महाशिवरात्रि को बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। कार्यक्रम पूरी रात चलता है। भोलेनाथ के दर्शनों हेतु भक्त दूर-दूर से यहां आते हैं। मंदिर में हर रविवार को भंडारा लगता है।


 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन